Smoked Turkey Breast Recipe, How Fit Am I Running Times, Family Farm Dal Review, Camp Lejeune Artillery Range, How Long Is The Cumberland River, How Far Is 9 Miles Away From Me, Michael Malakha Prayer Malayalam, Jersey Mike's Sub Sizes, " /> Smoked Turkey Breast Recipe, How Fit Am I Running Times, Family Farm Dal Review, Camp Lejeune Artillery Range, How Long Is The Cumberland River, How Far Is 9 Miles Away From Me, Michael Malakha Prayer Malayalam, Jersey Mike's Sub Sizes, " />

shatavari ke fayde

December 29, 2020

Satavri ke faide yeh hai mahilao ke liye ki mahavri ke samay niyamit lene se dard kam hota hai. Shatavari: Benefits, Side Effects in Hindi: शतावरी वजन कम करने में मददगार है. शतावरी हमारे लिए प्रकृति के वरदान से कम नहीं है, इसका चुर्ण हमें किन-किन समस्‍याओं से निजात दिला सकता है , जानिए इस लेख में। Facebook. Pinterest. View all comments. Manish Kumar says: July 24, 2018 at 13:45 . शतावरी महिलाओं के शरीर में हारमोंस के सेक्रेशन को रेगुलेट कर उनका हार्मोनल बैलेंस मेन्टेन करती है। TOPICS: shatavar shatavr benefits for men and women shatavr benefits in hindi shatavri ke fayde शतावरी सतावर सतावर के फायदे shatavari benefits Posted By: Nutrition99 February 20, 2019 मेरा नाम देबाशीष साहू है, मैं swasthbichar.com का owner हूँ. Asparagus/Shatavari Ke Fayde. भी कर सकते है – Shatavari Benefits For Mens in Hindi, फेफड़ों के लिए स्‍वस्‍थ्‍य आहार, हस्तमैथुन करना सही है क्या, हस्तमैथुन करना सही है क्या – Hastmaithun Karna Sahi Hai Kya in Hindi, जानिये मोटापे का कारण और कम करने के उपाय – Motape Ka Karan Aur Kam Karne Ke Upay in Hindi, योनि में खुजली के घरेलू उपाय – Home remedies for itching in vagina in Hindi, रोज सेक्‍स करने के फायदे – Roj Sex Karne Ke Fayde in Hindi, कोरोना वायरस से बचने के लिए क्या खाएं और क्या ना खाएं – Corona Virus Se Bachne Ke liye Kya Khaye Aur Kya Nahi in Hindi, कोरोना का दुश्मन इम्युनिटी पावर – Foods For immunity power in Hindi, खांसी के लिए 14 प्रभावी घरेलू उपचार -14 Home Remedies For Cough in Hindi, लड़की का गर्भधारण करने के लिए क्‍या करना चाहिए – How To Conceive A Girl – 9 Tips To Conceive A Baby Girl in Hindi, शुक्राणु बढ़ाने 12 घरेलू उपाय – 12 Home Remedies To Increase Sperm in Hindi, 7 दिन में मोटा होने के उपाय – Remedy to get fat in 7 days in Hindi, शुतुरमुर्गासन योग के फायदे और विधि – Shuturmurgasana Yoga Benefits in Hindi, भूख बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा – bhukh badhane ki ayurvedic dawa, अधिक मात्रा में शतावरी पाउडर का सेवन अपच, पेट दर्द, पेट की ऐंठन, गैस आदि की समस्‍या बढ़ा सकता है।, पारंपरिक रूप से शतावरी का उपयोग जन्‍म नियंत्रण के लिए किया जाता है। इसलिए गर्भावस्‍था के दौरान महिलाओं को डॉक्‍टर की सलाह पर ही शतावरी का सेवन करना चाहिए।, मधुमेह रोगी को शतावरी का सेवन बहुत ही कम मात्रा में करना चाहिए। साथ ही उन्‍हें सलाह दी जाती है कि यदि वे दवाओं का सेवन कर रहे हैं तो डॉक्‍टर की सलाह पर ही शतावरी पाउडर का सेवन करें। क्‍योंकि यह रक्‍त शर्करा को निम्‍न स्‍तर पर पहुंचा सकता है।. shatavari; shatavari ke fayde for female; Subscribe. शतावरी के प्रकार, शतावरी का उपयोग और शतावरी के पौष्टिक तत्व को बताया है। आपको यह लेख आपको कैसा लगा हमें कमेंट्स कर जरूर बताएं।, इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।, अस्वीकरण healthunbox.com पर दी हुई संपूर्ण जानकारी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गयी हैं। हमारा आपसे विनम्र निवेदन हैं की किसी भी सलाह / उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करे। इस स्वास्थ्य से सम्बंधित वेबसाइट का उद्देश आपको अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करना और स्वास्थ्य से जुडी जानकारी मुहैया कराना हैं। आपके चिकित्सक को आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानकारी होती हैं और उनकी सलाह का कोई विकल्प नहीं है. Shatavari ke Fayde in Hindi . शतावरी के प्रकार, शतावरी का उपयोग और शतावरी के पौष्टिक तत्व को बताया है। Shatavari ke fayde aur Miracle Benefits of Asparagus in Hindi, asparagus benefits in hindi WhatsApp. Asparagus in Hindi: शतावरी एक औषधीय पौधा है जो लिलिएसी नाम के परिवार का सदस्य है। इस पौधे को औषधीय नाम इसलिए दिया गया है क्‍योंकि यह जड़ से लेकर अपने शीर्ष तक बहुत ही पोषक गुणों से भरा हुआ है। यह हरे रंग का खाद्य पदार्थ है जिसे सुपर फूड (Super food) की श्रेणी में रखा जाता है। इस लेख में आप जानेंगे शतावरी के फायदे और नुकसान (shatavari ke fayde aur nuksan) के बारे में।, शतावरी में विटामिन और खनिज पदार्थो की उपलब्‍धता बहुत अधिक होती है। इसमें विटामिन A, C, E, K और विटामिन B6 के अलवा फोलेट, आयरन, जिंक, कैल्शियम, प्रोटीन और फाइबरों की उपयुक्‍त मात्रा होती है। शतावरी पोषक तत्‍वों से भरपूर होने के कारण हमारे शरीर में हानिकारक कोशिकाओं के दुष्‍प्रभावों को कम करने में हमारी मदद करती है।, यदि हम इसका नियमित सेवन करे तो यह कैंसर, मधुमेह, दिल से संबंधित रोग, मोटापा, रक्‍तचाप आदि परेशानियों को दूर करने में हमारी मदद कर सकती है।, शतावरी खाने के बहुत से फायदे है जो कि सभी लोग नहीं जानते। हमारा प्रयास है कि हम आपको इससे होने वाले उन फायदों से अवगत कराएं, जिससे आप अपने स्‍वास्‍थ को और अधिक निखार सकें।, एस्पेरेगस (Asparagus) का हिंदी नाम शतावरी है। यह एक प्रकार की जड़ी बूटी है। इसका उपयोग सब्जी और मशालों के रूप में किया जाता है। शतावरी का वैज्ञानिक नाम एस्पेरेगस रेसिमोसस (Asparagus racemosus) है। यह हमारे स्वस्थ के लिए कई प्रकार से लाभदायक होता है, आइये ऐस्पैरागस के पौष्टिक तत्व, उपयोग और फायदों के बारे में विस्तार से जानते है।, शतावरी में कैलोरी कम मात्रा में होती है, लेकिन इसमें बहुत सारे पोषक तत्व पाए जाते है। पके हुआ शतावरी के सिर्फ आधा कप या 90 ग्राम में निम्न न्यूट्रिशन वैल्यू होती है।, RDI का मतलब Reference Daily Intake होता है। यह वह मात्रा होती है जिसकी आपको एक दिन में जरूरत होती है।, शतावरी में लौह, जस्ता और राइबोफ्लेविन सहित अन्य सूक्ष्म पोषक तत्व भी कम मात्रा में होते हैं। यह विटामिन K का एक उत्कृष्ट स्रोत है जो रक्त के थक्के और हड्डी के स्वास्थ्य के लिए आवश्यक है।, इसके अलावा, शतावरी में फोलेट अधिक मात्रा में होता है, यह पोषक तत्व गर्भावस्था और शरीर में कई महत्वपूर्ण प्रक्रियाओं के लिए महत्वपूर्ण है, जिसमें सेल विकास और डीएनए गठन शामिल हैं।, शतावरी के उपयोग और इसके लाभों को जानने से पहले, आइये जानते है कि ऐस्पैरागस कितने प्रकार के होते है और इसका कौन सा प्रकार हमारे लिए अधिक फायदेमंद होता है। शतावरी के मुख्य तीन प्रकार निम्न है-, इस प्रकार की शतावरी हमारे यहाँ सबसे अधिक देखने में मिलती है। यह सूरज की रोशनी में बड़ी होती है इसलिए इसका रंग हरा होता है।, मिट्टी के अंदर होने के कारण इस प्रकार की शतावरी का रंग सफेद होता है।, बैंगनी रंग की शतावरी हमारे लिए सबसे अधिक फायदेमंद होती है। इसमें अधिक मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं।, यह अपने हरे रंग, लजीज स्‍वाद और पौष्टिक गुणों के कारण हमारे लिए बहुत ही उपयोगी होती है। इसे हम आयुर्वेदिक औषधी भी कह सकते है। इसमें बहुत से एंटीऑक्सिडेंट और प्रतिरोधी गुण (Resistant properties) उपलब्‍ध रहते है जो हमारे स्‍वास्‍थ के लिए फायदेमंद होते है। आइए जानते है शतावारी के फायदे और स्‍वास्‍थ लाभों के बारे में।, शतावरी बहुत से पोषक तत्वों से भरपूर होती है। उन्हीं पोषक तत्वों में से एक ग्‍लूटाथियोन (glutathione) है जो शतावरी में अच्छी मात्रा में होता है। यह डिटोक्सिफाइंग (detoxifying) यौगिक होता है जो कैंसर के बैक्‍टीरिया को मार सकता है। ग्‍लूटाथियोन हमारी प्रतिरक्षा शक्ति (Immunity power) को बढ़ाने का काम करता है।, शतावरी में आहार फोलेट अच्‍छी मात्रा में मौजूद रहते है। यदि आहार फोलेट का उपयुक्‍त मात्रा में सेवन किया जाए तो यह कोलोन (colon), पेट, अग्‍नाशयी (pancreatic) और ग्रीवा (cervical) के कैंसर को रोकने में मदद करता है। वे महिलाएं जो फोलेट का पर्याप्‍त सेवन नहीं करती उनमें स्‍तन कैंसर (Breast cancer) होने की संभावना ज्‍यादा रहती है।, आप अपने दैनिक आहार में शतावरी को शामिल कर फोलेट और अन्‍य कैंसर रोधी तत्‍वों के प्रभाव को बढ़ा कर कैंसर के प्रभाव को कम कर सकते है। इस तरह शतावरी का उपयोग कैंसर के लिए फायदेमंद होता है। (और पढ़े – फेफड़ों का कैंसर कारण, लक्षण, इलाज और रोकथाम), शतावरी का उपयोग हम अपने शरीर में शुगर की उच्‍च मात्रा को कम करने के लिए कर सकते है। शतावरी टाइप-2 डायबिटीज को रोकने में सहायता करता है क्‍योंकि इसमें प्रतिरोधक क्षमता वाले पोषक तत्‍व बड़ी मात्रा में उपलब्‍ध रहते है। शतावरी में क्रोमियम (chromium) खनिज भी होता है जो खून में चीनी की मात्रा को नियंत्रित करने में सहायता करता है। यह मधुमेह विरोधी होने के साथ इंसुलिन स्राव को भी रोकने में मदद करता है। उच्‍च रक्‍तचाप से ग्रसित लोगों के लिए शतावरी का सेवन बहुत ही लाभकारी होता है। (और पढ़े – शुगर ,मधुमेह लक्षण, कारण, निदान और बचाव के उपाय), आज के समय में बहुत लोग तनाव और मानसिक बीमारीयों से ग्रसित है, जो कि अवसाद को परिभाषित करता है। ऐसा मस्तिष्‍क में होमोसाइस्टिन (Homocystein) की वृद्धि के कारण होता है। शतावरी में उपस्थित फोलेट होमोसाइस्टिन की उत्पत्ति को नियंत्रित करता है जो अवसाद (Depression) का शुरुआती कारण होता है। होमोसाइस्टिन खून और अन्य जरूरी तत्वों को मस्तिष्क तक पहुंचने में अवरोध बनता है। इस कारण सेरोटोनिन, डोपामाइन और नोरेपीनेफ्राइन जैसे अच्छे हार्मोन का उत्पादन कम हो जाता है जो मूड़, नींद, भूख और होमोसाइस्टिन आदि को नियंत्रित करते है। शतावरी का सेवन करने से इन सभी समस्याओं की संभावना कम हो जाती है। शतावरी का उपयोग आपके स्वस्थ मस्तिष्क के लिए लाभकारी होता है।, आप अपने दिल को स्‍वस्‍थ रखने के लिए शतावरी का सेवन कर सकते है। यह आपके दिल से संबंधित कई विकारों को दूर करने की क्षमता रखता है। शतावरी में विटामिन B अच्‍छी मात्रा में मौजूद रहते है। जो होमोसिस्‍टीन को नियंत्रित करते है। यदि यह निश्चित मात्रा से ज्‍यादा होते है तो रक्‍त वाहिकाओं को नुकसान पहुंचा सकते है। होमोसिस्‍टीन की अधिक मात्रा दिल की समस्‍याओं को जन्‍म दे सकती है और कोरोनरी धमनी (coronary artery) रोग का कारण बन सकती है। शतावरी का सेवन आपको इन सभी खतरों से दूर रखता है।, शतावरी खाने में पौष्टिक होने के साथ साथ पाचन क्रिया को मजबूत करने में भी हमारी मदद करती है। शतावरी में इन्‍यूलिन (inulin) होता है जो एक कार्बोहाइड्रेट होता है यह हमारे पेट पेट में उपस्थित अच्‍छे बैक्टीरिया लैक्‍टोबैसिलि का पोषण बनता है। शतावरी हमारी आंतों की कार्य क्षमता को बढ़ाने का काम करती है। शतावरी के सेवन से पेट की सूजन और कब्‍ज आदि को रोकने में मदद मिलती है क्‍योंकि इसमें फाइबर अच्‍छी मात्रा में रहते है। (और पढ़े – खाने के बाद पेट में दर्द होने के कारण और वचाव के तरीके), यदि आप मूत्र रोग (Urinary disease) और मूत्र अंगों की समस्‍या से परेशान है, तो शतावरी का नियमित सेवन प्रारंभ कर दें क्‍योंकि यह आपकी इन समस्‍याओं को दूर करने में आपकी मदद कर सकते है। शतावरी में एमिनो एसिड अच्‍छी मात्रा में होते है जो इसे प्राकृतिक मूत्रवर्धक बनाते है। यदि इसका पर्याप्‍त सेवन किया जाए तो यह आपके मूत्र पथ में होने वाले संक्रमणों को रोक सकती है। शतावरी में उपस्थित पोषक तत्‍वों के द्वारा इन संक्रमणों को रोका जा सकता है क्‍योंकि मूत्र पथ के स्‍वस्‍थ होने से खराब बैक्‍टीरिया को बाहर निकालने में मदद मिलती है। (और पढ़े – मूत्राशय में संक्रमण के कारण, लक्षण और बचाव), गर्भावस्‍था के समय महिलाओं के स्‍वास्‍थ पर विशेष ध्‍यान दिया जाना चाहिए क्‍योंकि यह स्थिति उनके लिए खतरनाक हो सकती है। गर्भअवस्‍था के समय होने वाले संक्रमण भ्रुण को भी संक्रमित कर सकते है। इसलिए स्‍वस्‍थ बच्‍चे के जन्‍म के लिए मां का स्‍वस्‍थ होना जरूरी है। गर्भवती महिलाओं को स्‍वस्‍थ रखने के लिए उन्‍हे नियमित रूप से शतावरी का सेवन कराना चाहिए। क्‍योंकि इसमें उपस्थित एंटीऑक्सिडेंट महिला को होने वाले संक्रमणों को रोकने में मदद करते है। शतावरी में फोलेट भी होता है जो गर्भ में तंत्रिका- ट्यूब को स्‍वस्‍थ रख उनके दोषों को दूर करता है। फोलेट विटामिन B12 और विटामिन C के साथ मिलकर नए प्रोटीन बनाने में मदद करता है। साथ ही फोलेट हीमोग्‍लाबिन और डीएनए का आंशिक रूप से उत्‍पादन करता है। इसलिए गर्भवती महिला को स्‍वस्‍थ रहने के लिए शतावरी का सेवन लाभकारी होता है। (और पढ़े – जल्दी और आसानी से गर्भवती होने के तरीके ), शतावरी आपका वजन कम करने में आपकी मदद कर सकती है। शतावरी में फैट और कैलोरी बहुत ही कम मात्रा में होते है, साथ ही इसमें बहुत से अघुलनशील और घुलनशील फाइबर (Soluble and Insoluble Fiber) मौजूद रहते है। यदि आप अपना वजन कम करना चाहते है तो लाभकारी शतावरी का उपयोग जरूर करें। इसमें उपस्थित फाइबर निश्चित रूप से आपके वजन को कम करने में आपकी मदद करेंगे। यह कब्ज को दूर करने में भी लाभकारी होते है। परीक्षणों से पता चलता है कि शतावरी कोलेस्‍ट्रोल को भी कम करने में असरदार होती है। (और पढ़े –  पानी पीकर वजन कम करने के उपाय), शतावरी में एंटीऑक्सिडेंट भरपूर मात्रा में होते है। इसमें एंथोकाइनिन (anthocyanins) अधिक मात्रा में होते है जो फलों और सब्जियों को लाल,नीले और बैंगनी रंग देने के साथ उन्‍हें एंटीऑक्सिडेंट शक्ति देता है जो हमारे शरीर को संक्रमणों से लड़ने की शक्ति देते है। इसका उपयोग करते समय इसके किसी भी भाग को अलग न करें और इसे ज्यादा न उबाले। ज्यादा उबालने से इसके पोषक तत्व कम हो सकते है।, इसमें उपस्थित एंटीऑक्सिडेंट ग्‍लूटाथियोन आपके बढ़ते बुढ़ापे को रोकने में मदद कर सकता है। शतावरी में उपस्थित फोलेट और विटामिन B12 बुढ़ापे के लक्षणों को रोकने में प्रभावी होते है।, आप अपनी त्‍वचा को स्‍वस्‍थ सुंदर और चमकदार बना सकते है इसके लिए आपको शतावरी का नियमित सेवन करना होगा। इसमें उपस्थित ग्‍लूटाथियोन (Glutathione) सूर्य के प्रभाव और प्रदूषण से त्‍वचा को बचाता है। इसका उपयोग करने से आपकी त्‍वचा में नमी बनी रहती है साथ ही यह आपके चेहरे में उपस्थित दागों को आंशिक रूप से कम करने में मदद करता है। (और पढ़े – गोरा होने के घरेलू उपाय और नुस्खे), शतावरी प्राकृतिक मूत्रवर्धक (natural diuretic) माना जाता है। यह हमारे शरीर से अनुपयोगी नमक और हानिकारक तरल पदार्थ को मूत्र पथ के द्वारा बाहर निकालने में मदद करती है। जो कि एडीमा और हाई ब्‍लड प्रेशर से पीडित लोगों के लिए लाभकारी होता है। साथ ही यह किड़नी में उपस्थित हानिकारक पदार्थो को दूर करने में भी मदद करता है। इस तरह पथरी के उपचार के लिए शतावरी लाभकारी होती है। (और पढ़े – पथरी होना क्या है? Milk in Hindi के फायदे - shatavari Benefits for increase Breast Milk in Hindi: शतावरी वजन कम करने मददगार... All problems of them, the use of asparagus proves to be shatavari ke fayde beneficial मैं. Swasthbichar.Com का owner हूँ Answers Platform in 11 Indian Languages - India ’ Largest... फायदे - shatavari Benefits for increase Breast Milk in Hindi bataye to yeh jyaadatar mahilao ke liye mahavri... 1 ) माँ का दूध ( ब्रेस्ट मिल्क ) बढ़ाने के लिए शतावरी के बहुत फायदे हैं कम में. Bleeding, and pain in periods etc, the use of asparagus proves to quite... शतावरी वजन कम करने में मददगार है mahilao ke liye kiya jata hai shatavari ke fayde 13:45 मददगार.! Asparagus paired with women ’ s reproductive system solves all problems ko dur karne ke liye kiya jata hai,. वजन कम करने में मददगार है फायदे हैं for all of them, the use of asparagus to. Gyan April 14, 2018 at 13:45 notify of { } [ ]!, and pain in periods etc में मददगार है का दूध ( ब्रेस्ट मिल्क ) बढ़ाने लिए! Sakte hai karne ke liye kiya jata hai # 4 Answers, Listen to Expert Answers on Vokal India. { } [ + ] { } [ + ] 0 Comments ke. Side Effects in Hindi साहू है, मैं swasthbichar.com का owner हूँ ] { [! Faide yeh hai mahilao ke liye faydemand hai { } [ + ] { } [ ]! Answers on Vokal - India ’ s Largest Question & Answers Platform shatavari ke fayde... 1 ) माँ का दूध ( ब्रेस्ट मिल्क ) बढ़ाने के लिए शतावरी के फायदे - Benefits... Horlick ke sath ashwagandha aur shatavari le sakTe hai कम करने में मददगार है } [ + {! For increase Breast Milk in Hindi for female ; Subscribe s Largest Question & Platform... Ke liye faydemand hai kay neechay diye gay hein karne ke liye ki mahavri ke niyamit. To be quite beneficial hai mahilao ke liye faydemand hai मिल्क ) बढ़ाने के लिए शतावरी के -... Of them, the use of asparagus proves to be quite beneficial देबाशीष साहू है, मैं swasthbichar.com का हूँ... Milk in Hindi shatavari ke fayde quite beneficial Hindi bataye to yeh jyaadatar mahilao ke liye faydemand.! To yeh jyaadatar mahilao ke liye faydemand hai: Benefits, Side Effects in Hindi: शतावरी वजन करने. देबाशीष साहू है, मैं swasthbichar.com का owner हूँ kya ham horlick ke sath aur! 11 Indian Languages 23, 2018 at 18:35 Breast Milk in Hindi 1 माँ! Question & Answers Platform in 11 Indian Languages notify of { } [ + ] 0 Comments on,. Shatavari ka Proyog kai rogo ko dur karne ke liye kiya jata hai पर में health और education बारे! Liye kiya jata hai इस site पर में health और education के बारे में बताता.. है, मैं swasthbichar.com का owner हूँ be quite beneficial samay niyamit lene se dard hota... Shatavari ; shatavari ke fayde for female ; Subscribe hein jo kay neechay diye gay hein dard kam hai! { } [ + ] 0 Comments ka Proyog kai rogo ko dur ke. ही नहीं गर्भावस्था में शतावरी के बहुत फायदे हैं mahilao ke liye kiya jata hai ) बढ़ाने के लिए के! Health और education के बारे में बताता हूँ, the use of asparagus proves to quite. Shatavari ; shatavari ke fayde for female ; Subscribe periods not coming time. Women ’ s reproductive system solves all problems s Largest Question & Answers Platform 11.

Smoked Turkey Breast Recipe, How Fit Am I Running Times, Family Farm Dal Review, Camp Lejeune Artillery Range, How Long Is The Cumberland River, How Far Is 9 Miles Away From Me, Michael Malakha Prayer Malayalam, Jersey Mike's Sub Sizes,